जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू ) के एक छात्र पर विवादित ट्वीट करने का आरोप लगा है। इसके बाद पुलिस ने एक्शन लेते हुए छात्र पर एफआईआर दर्ज की है। बता दें कि आरोपी छात्र की पहचान बसीम हिलाल के रूप में हुई है जिसके खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। बता दें कि हिलाल के ट्विटर अकाउंट पर पुलवामा हमले के बाद एक ट्वीट किया गया था जिसमें ‘हॉउज द जैश’ लिखा हुआ था। छात्र को यूनिवर्सिटी से सस्पेंड कर दिया गया है।
बता दें कि गुरुवार को पुलवामा हमले के दौरान सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन ‘जैश-ए-मोहम्मद’ ने ली थी। आरोप है कि इस घटना के बाद एएमयू के कश्मीरी मूल के छात्र बिलाल हिलाल ने ट्वीट करते हुए ‘हॉउज द जैश, ग्रेट सर’ लिख कर बवाल खड़ा कर दिया। हालांकि मामले के तूल पकड़ते ही ट्वीट को डिलीट कर दिया गया। इसके बाद एएमयू प्रशासन ने आरोपी छात्र को निलंबित कर दिया। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने हिलाल के खिलाफ धारा 153 A, 67 आईटी एक्ट के तहत थाना सिविल लाइंस में मामला दर्ज किया है।

बता दें कि मामले में बोलते हुए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के पीआरओ उमर सलीम पीरजादा ने कहा, ‘हमें उसके (हिलाल) बेहद आपत्तिजनक ट्वीट के बारे में पता चला है। मामले का तत्‍काल संज्ञान लेते हुए एएमयू प्रशासन ने उसे निलंबित कर दिया है। हम यूनिवर्सिटी को बदनाम होने नहीं दे सकते। ऐसी चीजों के लिए हमारे यहां जीरो टॉलरेंस की नीति है। वह कश्‍मीर का रहने वाला है और गणित में स्‍नातक की पढ़ाई कर रहा है।’ बता दें कि पुलवामा हमले के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस की ओर से जानकारी दी गई है कि हमले को जैश के आतंकी आदिल अहमद डार उर्फ वकास ने अंजाम दिया जो कि पुलवामा का निवासी था।